जबरदस्त पोस्ट ऑफिस बचत योजनाएं Post office new saving schemes 2020

post office saving scheme 2020


दोस्तों आज इस पोस्ट में हम जानेंगे पोस्ट ऑफिस की नई जमा योजनाओ के बारे में, जो है -

R.D. ACCOUNT
K.V.P. 
M.I.S ACCOUNT

T.D.S ACCOUNT

N.S.C.

      चलिए, इन  पोस्ट ऑफिस स्कीम्स के बारे में एक-एक करके जानते हैं-

post office saving scheme

1.RD ACCOUNT(RECURRING DEPOSIT ACCOUNT)-


              इसे हिंदी में आवर्ती जमा खाता कहा जाता है यह अकाउंट पोस्ट ऑफिस में 5 वर्ष के लिए खुलवाया जाता है।
इस अकाउंट के तहत एक निश्चित राशि पोस्ट ऑफिस में जमा करनी होती है यह अकाउंट उन लोगों के लिए बहुत अच्छा होता है जो थोड़ा थोड़ा पैसा जमा करवाकर काफी अच्छा अमाउंट इकट्ठा करना चाहते हैं।
इस खाते की न्यूनतम राशि ₹10 होती है और अधिकतम की कोई सीमा नहीं होती है।
जो भी अमाउंट इस योजना में आप जमा करवाते हैं उस पर आप हो 7.2% वार्षिक दर से आपको ब्याज मिलता है।
यह ब्याज दर हर 3 महीने बाद बदलती है।
➤इस अकाउंट को आप पोस्ट ऑफिस में 5 साल के लिए ओपन कर सकते हैं। आरडी अकाउंट को पोस्ट ऑफिस में आप single या jointly खुलवा सकते हैं। यानी कि दो व्यक्ति मिलकर भी इस अकाउंट को खुलवा सकते हैं।
➤इस अकाउंट में आपको नॉमिनेशन की भी सुविधा है किसी भी अपने को आप इसमें नॉमिनी बना सकते हैं।
➤इस अकाउंट में एक सुविधा और दी जाती है कि अगर आपका एक शहर से दूसरे शहर में ट्रांसफर हो जाता है तो आप अपने अकाउंट को ट्रांसफर भी करवा सकते हैं।
➤अगर आप किसी माह पोस्ट ऑफिस में पैसे जमा कराने में चूक जाते हैं तब भी आपको कोई प्रॉब्लम नहीं है, आप उस पेमेंट को बहुत कम पेनल्टी के साथ जमा करवा सकते हैं। post office interest rate
➤इस अकाउंट में आपको एक सुविधा और मिलती है जिसमें आपको बीच में पैसे की जरूरत पड़ती है तो 1 साल बाद जो भी आपने खाते में निवेश किया है उसका 50 परसेंट अमाउंट निकाल सकते हैं।
➤पोस्ट ऑफिस में आप एक से अधिक आरडी अकाउंट भी खुलवा सकते हैं।

post office saving scheme

कितना पैसा मिलेगा आरडी अकाउंट पूरा होने पर -
   आरडी अकाउंट को ₹1000 प्रति माह के हिसाब से जमा करवाते हैं तो 5 वर्ष बाद आपको 7.2% वार्षिक ब्याज की दर से 72500 रुपए मिलेंगे। यह पोस्ट ऑफिस की काफी अच्छी स्कीम है।

post office saving scheme

2.KVP ( KISAN VIKAS PATRA)-


       किसान बचत योजना पोस्ट ऑफिस की एक मुख्य योजनाओं में से एक है इस बचत योजना में अच्छी ब्याज दर के साथ निवेश की सुरक्षा की गारंटी भी मिलती है। इस बचत योजना में निवेश करके अच्छा ब्याज प्राप्त किया जा सकता है। इसमें इस वक्त 7.6% ब्याज मिल रहा है।
किस ब्याज दर से निवेश किया गया पैसा लगभग 113 माह में 2 गुना हो जाता है।
1 अप्रैल 2016 से केवीपी को ऑनलाइन भी खरीद सकते हैं। इसके पहले यह छपे हुए प्रमाण पत्र के रूप में मिलते थे। post office interest rate
किसान विकास पत्र के माध्यम से जमा की गई रकम पर सरकार का 7.6% दर से ब्याज दे रही है। किसी ब्याज दर से किसान विकास पत्र में जमा पैसा लगभग 113 महीने में 2 गुना हो जाता है।
किसान विकास पत्र में न्यूनतम ₹1000 जमा किया जा सकता है अधिकतम रकम जमा करने की कोई सीमा नहीं है आप जितना भी चाहे इसमें पैसा जमा कर सकते हैं। कोई भी वयस्क व्यक्ति अपने नाम पर या नाबालिक बच्चे के नाम से से खरीद सकता है या दो व्यक्ति एक साथ मिलकर भी इस को संयुक्त रूप से खरीद सकते हैं।
➤किसान विकास पत्र में भी नॉमिनी की सुविधा होती है।
➤किसान विकास पत्र को किसी दूसरे व्यक्ति को भी ट्रांसफर कर सकते हैं। इसके लिए पोस्ट ऑफिस में आपको आवेदन फॉर्म भरना होता है।
➤जरूरत पड़ने पर आप किसान विकास पत्र को मैच्योरिटी के पहले भी cash करवा सकते हैं लेकिन ऐसा आप तभी कर सकते हैं जब आपके किसान विकास पत्र को ढाई वर्ष पूर्ण हो चुके हो।

new post office schemes,post office ki yojna ,पोस्ट ऑफिस योजनायें

3.MIS (MONTHLY INCOME SCHEME)-


    MIS को हम डाकघर मासिक योजना के नाम से भी जानते हैं इसके माध्यम से कोई भी भारतीय नागरिक एक मुश्त राशि जमा करके , हर माह एक निश्चित ब्याज की राशि उठा सकता है। 
इसी योजना से आपको हर महीने एक निश्चित आय होती रहती है और उसका पूरा का पूरा पैसा सुरक्षित बना रहता है जो कि योजना के अंत में जमा करने वाले को मिल जाता है तो यह योजना एक बहुत विश्वसनीय योजना है। इसमें बिना जोखिम के निश्चित आय होती है।

post office saving scheme

➤MIS Schemes में सिंगल और ज्वाइंट अकाउंट खुलवा सकते हैं।
➤इस स्कीम में सिंगल नाम से 4.5 लाख रूपए तक और जॉइंट नाम में अधिकतम ₹900000 तक जमा हो सकते हैं।
➤इस स्कीम में 1 अक्टूबर 2019 से 7.6% वार्षिक ब्याज मिल रहा है।

post office saving scheme

कौन खुलवा सकता है MIS ACCOUNT को-post office interest rate
     पोस्ट ऑफिस में कोई भी भारतीय इससे एमआईएस अकाउंट को खुलवा सकता है इस अकाउंट को अकेले खुलवा सकते हैं या ज्वाइंटली भी खुलवाया जा सकता है।
पोस्ट ऑफिस में M.I.S. अकाउंट को खुलवाने के लिए उतने ही कागजात की जरूरत पड़ती है जितनी बैंक का खाता खुलवाने के लिए पड़ती है।
एमआईएस अकाउंट में नॉमिनेशन की भी सुविधा है यानी आप किसी भी अपने को इसमें नॉमिनी बना सकते हैं। इस में खाता खुलवाने के बाद कभी भी नॉमिनी बनवा सकते हैं।
इसमें भी आरडी अकाउंट की तरह एमआईएस अकाउंट को एक पोस्ट ऑफिस से दूसरे पोस्ट ऑफिस में ट्रांसफर करवाया जा सकता है।
एमआईएस अकाउंट को 5 वर्ष तक के लिए खुलवाया जाता है। पहले यह 6 वर्ष तक के लिए खुलवाया जाता था लेकिन 1 दिसंबर 2011 से इसे 5 वर्ष का कर दिया गया है।
एमआई अकाउंट को अगर आप 5 वर्ष तक नहीं रखना चाहते हैं तो इसे 5 वर्ष के पहले भी बंद करवा सकते हैं।
अगर अकाउंट खुलने से लेकर 3 वर्ष के अंदर बंद करवाया जाता है तो जमा राशि का 2 फ़ीसदी काटकर वापस दे दिया जाता है। और अगर 3 वर्ष के बाद एमआईएस अकाउंट को बंद करवाने के बाद केवल एक फ़ीसदी पैसा काट के आपको वापस रकम लौटा दी जाएगी।

post office saving scheme

कितनी राशि जमा करने पर कितना ब्याज मिलेगा-post office interest rate

       अगर आप सिंगल इस अकाउंट को ओपन करते हैं और इसमें 4.5 लाख रूपए जमा करते हैं तो 2850 रुपए महीना, 5 वर्ष तक मिलेंगे, तथा इसका कुल ब्याज ₹171000 मिलेंगे।
पूरी राशि ब्याज सहित मिलेगी- 6,21000 रुपए
अगर आप ज्वाइंट अकाउंट के रूप में ₹900000 जमा करते हैं तब 5700 रुपए प्रति महिना ब्याज मिलेगा।
और कुल ब्याज 5 वर्ष बाद 3,42000 रुपए मिलेंगे।
पूरी राशि ब्याज सहित मिलेगी- 12,42000

4.TDS (TIME DEPOSIT SCHEME)-

         जिसे हम बैंक में एफडी कहते हैं उसी को पोस्ट ऑफिस में हम टीडी (TIME DEPOSIT) कहते हैं।
पोस्ट ऑफिस के टाइम डिपॉजिट अकाउंट में बैंक से ज्यादा ब्याज मिलता है जहां एसबीआई में अभी FD पर 6.8% ब्याज मिलता है वहीं पर पोस्ट ऑफिस में टाइम डिपॉजिट में अधिकतम 7.7% ब्याज मिलता है।
इसके अलावा अगर कोई 5 साल के लिए अपना पैसा इस स्कीम में जमा करता है तो उसे इनकम टैक्स छूट का लाभ भी मिलता है।
यहां पर हम आपको बताना चाहेंगे कि पोस्ट ऑफिस की टाइम डिपॉजिट स्कीम में ब्याज दरें समय के हिसाब से फिक्स की गई हैं अगर आप 1 वर्ष, 2 वर्ष या 3 वर्ष तक इसमें पैसे निवेश करते हैं तो 6.9% का ब्याज मिलेगा।
टाइम डिपॉजिट में 5 साल के लिए पैसे जमा करते हैं तो इसमें 7.7% का ब्याज मिलता है।
ब्याज की दरें सरकार वित्त वर्ष की हर तिमाही शुरुआत में तय करती है।

post office saving scheme

➤पोस्ट ऑफिस टाइम डिपॉजिट के अंदर हम न्यूनतम ₹200 से ओपन कर सकते हैं और अधिकतम कि यहां कोई सीमा नहीं है आप कितने भी रुपए जमा करवाकर इस अकाउंट को खुलवा सकते हैं।
➤इस अकाउंट को भी सिंगल या जोइंटली ओपन करवा सकते हैं।
➤इस अकाउंट को एक पोस्ट ऑफिस से दूसरे पोस्ट ऑफिस में ट्रांसफर भी करवा सकते हैं।
➤नॉमिनेशन की सुविधा भी होती है किसी भी अपने को इस में नॉमिनी बनाया जा सकता है।
➤टीडीएस अकाउंट को आप एक से ज्यादा बार भी खुलवा सकते हैं।
➤अकाउंट मैच्योरिटी हो जाने के बाद भी पैसा नहीं निकालते हैं तब यह अकाउंट स्वत: ही उतनी ही दिनों के लिए रिन्यू हो जाता है।

टीडीएस अकाउंट में कितनी राशि जमा करने पर कितना ब्याज मिलेगा-
post office interest rate

   अगर आप इसमें एक लाख रुपए 1 वर्ष के लिए जमा करते हैं तब 6.9% के ब्याज के हिसाब से-
7081 रुपए कुल ब्याज के मिलेंगे।
अगर आप 1 लाख रूपए 2 वर्ष के लिए जमा करते हैं तब 6.9% की दर से-
14162 रुपए कुल ब्याज के मिलेंगे।
मूलधन के साथ आपको कुल  114162 रूपए मिलेंगे।
अगर आप 3 वर्ष के लिए ₹100000 जमा करते हैं तब 6. 9% ब्याज दर के हिसाब से-
₹21243 टोटल ब्याज के मिलेंगे। मूलधन के साथ आपको कुल 121243  रुपए मिलेंगे।
आगरा 5 वर्ष के लिए ₹100000 जमा करते हैं तब 7.70% के ब्याज से-कुल ब्याज राशि 39625 रुपए बनेंगे। मूलधन के साथ आपको कुल 139625 रुपए मिलेंगे।

post office saving scheme

5.N.S.C. (NATIONAL SAVING CERTIFICATE)-

         इसे राष्ट्रीय बचत पत्र कहा जाता है यह आपको बेहतर ब्याज दर और टैक्स छूट में लाभ देती है, इसे कोई भी खरीद सकता है जैसे- कोई नौकरी वाला, बिजनेस मेन, किसान या कोई भी अन्य व्यक्ति इस स्कीम को खरीद सकता है।
NSC को आप पोस्ट ऑफिस से ₹100, ₹500, ₹1000, ₹5000  या ₹10000 के सर्टिफिकेट के रूप में से खरीद सकते हो।
सर्टिफिकेट की अवधि 5 साल के लिए होती है 5 साल बाद इन सर्टिफिकेट को आ पोस्ट ऑफिस में ले जाकर CASH केस करवा सकते हो। 5 साल बाद आपको ब्याज समेत इसमें पूरी राशि मिल जाती है।
5 साल बाद आपको कितनी राशि मिलेगी यह आपको एनएससी खरीदते समय ही पता चल जाती है।
➤एनएससी में आपको एफडी से ज्यादा ब्याज मिलता है। (7.9% सालाना)
➤SEC.80C के तहत टैक्स छूट का लाभ।
➤नॉमिनी बनाने की सुविधा भी होती है।
➤दूसरे पोस्ट ऑफिस में ट्रांसफर की सुविधा भी होती है।
➤एनएससी के खो जाने पर डुप्लीकेट की सुविधा भी होती है।
➤चेक/ कैश/ डिमांड ड्राफ्ट से खरीदने की सुविधा भी होती है।
➤NSC को कोई सोसायटी या कंपनी नहीं खरीद सकते हैं।
➤Maturity से पहले CASH करने की सुविधा भी होती है। (एनएससी की अवधि 3 वर्ष पूर्ण होने पर या एनएससी धारक की मृत्यु होने पर)
➤एनएससी को बैंक में सिक्योरिटी के तौर पर रखकर आप बैंक से लोन भी ले सकते हैं।

post office saving scheme

कितने अमाउंट के एनएससी खरीदने पर कितना रिटर्न मिलेगा-post office interest rate

➧1000 रुपए के एनएससी पत्र खरीदने पर
7 पॉइंट 9% के ब्याज से 5 वर्ष बाद 1463 रुपए मिलेंगे।
➧₹5000 के एनएससी पत्र खरीदने पर
7.9 % के ब्याज से 5 वर्ष बाद 7313 रुपए मिलेंगे।
➧₹10000 के एनएससी पत्र खरीदने पर ब्याज
7. 9% के ब्याज से 5 वर्ष बाद 14625 रुपए मिलेंगे।
➧₹100000 के एनएससी पत्र खरीदने पर
7. 9% के ब्याज से 5 वर्ष बाद 1462150 रुपए मिलेंगे।

post office saving scheme

दोस्तों यह थी कुछ महत्वपूर्ण पोस्ट ऑफिस की योजनाएं इन योजनाओं को एक-एक करके हम नई पोस्ट में डिटेल से बताएंगे।