06 July 2018

नकसीर के घरेलू उपचार/नाक से खून आना/नकसीर फूटना/nosebleed causes in Hindi

Tags

गर्मियों में देखा जाता हैं कि बहुत से लोगों के नाक से अचानक खून बहने लगता है। जिसे नकसीर कहा जाता है। आज हम जानेंगे कि नकसीर आने पर जल्द से जल्द प्राथमिक उपचार कैसे किया जाना चाहिए।


नकसीर के घरेलू इलाज-

reasons for nose bleeding-naksir का इलाज, नकसीर का घरेलू इलाज

नाक से खून आने के कारण reasons for nose bleeding-

   नाक से खून आने के बहुत से कारण (nosebleed causes) हो सकते हैं जिनमें से कुछ मुख्य कारण नीचे बताए गए हैं-
  • नाक के बाहरी हिस्से पर चोट लगने के कारण भी नाक से खून आ जाता है।
  • नाक के अंदरूनी भागो मैं चोट से नाक से खून आने लगता है।
  • हाई ब्लड प्रेशर वाले व्यक्तियों को प्राय गर्मियों में नाक से खून बह सकता है।
  • पेट में गर्मी होने पर भी नकसीर आ जाती है।
  • गर्मियों के दिनों में अधिक चाय व अन्य गरम खाद्य पदार्थों का सेवन करने से भी नकसीर आती है।
  • नाक के अंदर रूखापन बढ़ने से भी नकसीर आती है।

नकसीर आने पर क्या करें-Prevention of nose bleed in Hindi

  नकसीर आना कोई भयंकर बीमारी नहीं होती लेकिन बार बार नकसीर आना एक बीमारी हो सकती है। नकसीर आने पर प्राथमिक उपचार करना जरूरी होता है।
  • नकसीर आने वाले व्यक्ति के सिर पर ठंडा हुआ सादा पानी डालना चाहिए।
  • रोगी व्यक्ति को लिटाए नहीं बल्कि सिर्फ पीछे करके बिठा देना चाहिए।
  • नकसीर आने पर सिर को ऊपर की तरफ करके ब्लड को रोकना नहीं चाहिए नहीं तो ब्लड फेफड़ों में जा सकता है।
  • नकसीर आने तक नाक को अंगुलियों से दबाए रखें।
फिर भी अगर नाक से खून आना बंद ना हो तो-
  • नाक के दोनों छेदों में रुई लगा कर न को दोबारा कुछ समय तक पकड़े रखना चाहिए।
  • नकसीर बंद होने के कुछ समय बाद ही सावधानी पूर्वक रुई को निकालना चाहिए।
  • नकसीर बंद होने के बाद नाक में जमी ब्लड की पपड़ी को नहीं निकालना चाहिए। नहीं तो फिर से नकसीर आ सकती है।
  • नाक से खून आना रुकने के बाद नाक का बर्फ से सेक करें
  • जिस व्यक्ति को अक्सर नकसीर आती है उसकी नाक के दोनों छेदों मैं दिन में तीन बार वैसलीन लगानी चाहिए।
  • ज्यादा उम्र के लोगों को नकसीर नाक के पिछले बार से भी आ सकती है यह गले में महसूस होती है।
  • इस प्रकार की नकसीर नाक दबाने पर भी नहीं रुकती है।
  • यदि ब्लड नाक के पिछले भाग से आ रहा हो तो जब तक नकसीर बंद ना हो तो थूके नहीं न ही जोर से खासे।
  • ऐसी स्थिति में व्यक्ति को डॉक्टर के पास ले जाना चाहिए।
  • हाई ब्लड प्रेशर के कारण भी नकसीर हो सकती है ऐसी स्थिति में खून का बहना जल्दी नहीं रुकता है ऐसे समय रोगी को तुरंत डॉक्टर के पास ले जाएं।
Read Also-


EmoticonEmoticon